हक की बात जिलाधिकारी के साथ हुआ आयोजन
कमलाकर मिश्न की रिपोर्ट
देवरिया- मिशन शक्ति के अंतर्गत आज "हक की बात जिलाधिकारी के साथ" कार्यक्रम आनलाइन गूगल मीट के माध्यम से जनपद में आयोजित किया गया। कार्यक्रम का उद्देश्य यौन हिंसा, लैंगिक असमानता, घरेलू हिंसा तथा दहेज हिंसा आदि से पीड़ित महिलाओं को त्वरित न्याय दिलाना है। पीड़िताओं की समस्या को सुनने व उनके निस्तारण हेतु गजेन्द्र कुमार उप जिलाधिकारी, जिला परिवीक्षा अधिकारी अनिल कुमार सोनकर, केन्द्र प्रबंधक वन स्टाप सेन्टर नीतू भारती, महिला कल्याण अधिकारी साधना चतुर्वेदी, मनोवैज्ञानिक मीनू जायसवाल, पूजा केस वर्कर वन स्टाप सेन्टर का पैनल पूर्वान्ह 11.00 बजे से उपस्थित रहा। पीड़िताओं की समस्या को सुनने के साथ-साथ डेडिकेटेड फोन लाइन का प्रयोग किया गया। जनपद की पीड़ित कुल 12 महिलायें बालिकाये गूगल मीट के माध्यम से अपनी समस्या से अवगत कराया। प्राप्त प्रकरणों में 02 प्रकरण जमीनी विवाद से 07 प्रकरण घरेलू हिंसा, 01 प्रकरण मार-पीट से सम्बन्धित था तथा जी.आई.सी. देवरिया की 50 बालिकाओं ने सेल्फ डिफेन्श के दृष्टिगत मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण प्राप्त किये जाने का अनुरोध किया। प्राप्त प्रकरणों को गम्भीरता पूर्वक लेते हुये सम्बन्धित अधिकारीगण को प्रकरण तत्काल निक्षेपित किये जाने के निर्देश दिये गये। जिला परिवीक्षा अधिकारी अनिल कुमार सोनकर द्वारा जी.आई.सी. की बालिकाओं को बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक एवं जिलाधिकारी से वार्ता के उपरान्त मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण दिलवाये जाने हेतु अनुरोध किया गया।