जिला मुख्यालय स्थित कामरेड सरजू पांडे पार्क में भाकपा माले कार्यकर्ताओं ने किया धरना-प्रदर्शन
कृपाशंकर यादव
गाज़ीपुर । भाकपा माले कार्यकर्ताओं ने पूर्व निर्धारित राज्यव्यापी कार्यक्रम के तहत जिला मुख्यालय स्थित कामरेड सरजू पांडे पार्क में, प्रयागराज के फाफामऊ में सामूहिक दलित हत्याकांड के न्यायिक जांच कराओ नामजद आरोपियों को गिरफ्तार करो और कड़ी से कड़ी सजा दो प्रदेश में दलित और महिला उत्पीड़न की घटनाओं पर रोक लगाने के कारगर कदम उठाओ आदि सवालों को लेकर धरना प्रदर्शन किया। धरना-प्रदर्शन को संबोधित करते हुए भाकपा (माले,) जिला सचिव रामप्यारे राम ने कहा ,कि देश भर यूपी नंबर वन की होल्डिंग लगवाने वाली योगी सरकार में दलित और महिलाएं और समाज का कमजोर तबका सुरक्षित नहीं है।हत्या, बलात्कार जैसे गंभीर मामलों में नामजद आरोपियों को बचाया जा रहा है। इसलिए अपराधियों के अंदर पुलिस और कोर्ट से सजा का डर खत्म हो गया है। फाफामऊ से लेकर वाराणसी तक में हत्या काण्ड और कक्षा तीन की लड़की के बलात्कारी खुलेआम बचाये जा रहें हैं।हर एक घंटे में तीन बच्चियों के साथ छेड़छाड़ और बलात्कार की घटनाएं हो रही है। ऐसे ही माहौल में प्रदेश में चुनाव होने जा रहा है। अयोध्या के बाद मथुरा में साम्प्रदायिक माहौल बिगाड़ने में लगीं है ताकि भयानक बेरोजगारी,खराब कानून व्यवस्था, से ध्यान हटाया जा सके। रोजगार अधिकार के विधानसभा मार्च करने गए इंकलाबी नौजवान सभा के कार्यकर्ताओं की चारबाग स्टेशन से गिरफ्तारी के घटना की कड़े शब्दों में निन्दा करते हुए गिरफ्तार बेरोजगार युवाओं को तत्काल रिहा करने, फाफामऊ सामूहिक दलित हत्याकांड की न्यायिक जांच कराने, समेत जमानियां थाना क्षेत्र के धुस्का गांव निवासी मदन मुसहर हत्या काण्ड की पुनः विवेचना कराने, प्रदेश में दलितों गरीबों महिलाओं के ऊपर हो रही उत्पीड़न की घटनाओं पर रोक लगाने, के लिए कारगर कदम उठाने की मांग उठाई। धरना-प्रदर्शन को राजेश वनवासी, मंजू गोंड, सत्येन्द्र कुमार प्रजापति, राम अशीष बिंद, मोती प्रधान, विरेन्द्र कुमार, राधेश्याम बिंद, कमलेश कुमार, इनरमल बिंद, उर्मिला देवी ने सम्बोधित किया।अंत में महामहिम राज्यपाल को संबोधित 8 सुत्रीय मांग पत्र नायब तहसीलदार सदर को सौंपा।